शैक्षिक सत्र प्रायःसभी स्कूलों में पूर्ण हो चुका है |अब प्रयोगात्मक परीक्षाएं भी अब समाप्ति की और हैं | सम्पूर्ण शैक्षिक सत्र मे छात्रों व् शिक्षकों द्वारा की गयी तैयारी का परिणाम लिखित परीक्षा में होगा | इसी परिणाम के लिए शिक्षकों द्वारा छात्रों को तैयार करने के लिए विभिन्न स्तरों को पार करना होता है | प्रायः यह भी देखा जाता है कि बोर्ड परीक्षाओं के पाठ्यक्रम विस्तारित होने के कारण पूरा सत्र उसे पूरा करने में ही निकल जाता है , और इस वर्ष तो कोरोना महामारी के चलते शिक्षको द्वारा किया गया अत्यधिक परिश्रम भी पर्याप्त होगा अथवा नही  इसमें संदेह है | जो भी हो अंतिम सत्य यही है कि छात्रों को परीस्क्षा देनी है और अच्छा परिणाम लाना है |

जब भी कोई एग्जाम शुरू होने वाला होता है तो बहुत से छात्रों को अक्सर एक बड़ी समस्या का सामना करना पड़ता है |और वह है कि उन्हें कम समय में बहुत ज्यादा सिलेबस तैयार करना पड़ता है l यह समस्या उन छात्रों को लिए बहुत बड़ी होती है जिन्होंने ने पूरा साल कुछ भी नहीं पढ़ा होता l परीक्षा में छात्रों के श्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए कुछ सुझाव प्रस्तुत हैं जिन पर अमल करके छात्र बेहतर प्रदर्शन करके मेरिट में अपना स्थान बना सकते है |

परीक्षा के लिए स्वयं को तैयार करें

1.दिनचर्या व्यवस्थित रखें |

2. परीक्षा के मानसिक दबाब से बचने के लिए व्यायाम /आसन /योग एवं नित्य कर्म करते रहें |

3.खाने में दूध . फल व् सलाद को स्थान दे |

4. मन को स्थिर रखें |

5. शांत और अध्ययन के लिए उपयुक्त वातावरण का निर्माण करे |

6. अधिक प्रकाश अथवा मद्दिम प्रकाश में अध्ययन से बचें |

7. अध्ययन के लिए बठने लिए कुर्सी  व् लिखने ले लिए डेस्क की ऊँचाई सुविधा जनक रखे |

8. परीक्षा के लिए परीक्षा की तैयारी  को महत्त्व दें |

9. पाठ्यक्रम की अपूर्णता के दवाब से बचें बल्कि शेष पाठ्यक्रम को क्रमशः पूर्ण करने का प्रयास करें |

10. पाठ्यक्रम का जो भाग तैयार है उसका रिवीजन करना न भूलें |

11. जो कंटेंट तैयार करना है उसे अलग अलग पार्ट्स में बाँट कर तैयार करें |

12. तैयारी में उपयुक्त व्यक्ति अथवा शिक्षक की सहायता लेने में संकोच न करें |

13. डायग्राम, समीकरण, फॉर्मूले, परिभाषाएं आदि को चार्ट्स पर बनाए और इन्हे स्टडी टेबल के पास चिपका दें. हमेशा आंखों के सामने रहने पर इन पर नजर पड़ती रहेगी और बिना याद करें ही याद होते रहेंगे |

आपकी मनः स्थिति परीक्षा के लिए आप को प्रेरित करती करती हैं इसलिए आपकी स्वस्थ मन: स्थिति परीक्षा के लिए अत्यंत आवश्यक है | स्वस्थ मन:स्थिति के लिए उपरोक्त उपाए बहुत कारगर साबित हो सकते हैं | इस से कभी भी आप  परीक्षा के प्रति मानसिक दबाब में नही आते और परीक्षा में स्वाभाविक सफलता प्राप्त कर उच्च अंक प्राप्त करने  में सक्षम हो सकते हैं |

  • परीक्षा के लिए स्वयं को तैयार करें
    शैक्षिक सत्र प्रायःसभी स्कूलों में पूर्ण हो चुका है |अब प्रयोगात्मक परीक्षाएं भी अब समाप्ति की और हैं | सम्पूर्ण […]
  • सप्त ऋषियों के नाम
    सप्तर्षि (सप्त + ऋषि) सात ऋषियों को कहते हैं | जिनका उल्लेख वेद एवं अन्य हिन्दू ग्रन्थों में अनेकों बार […]
  • कुण्डलिनी शक्ति
    कुण्डलिनी शक्ति को जाग्रत कर लेना बहुत ही जटिल प्रक्रिया है और यह एक अद्भुत और विचित्र अनुभव है जसकी […]
  • अष्टांग योग
    अष्टांग योग – महर्षि पतंजलि ने योग को ‘चित्त की वृत्तियों के निरोध’ (योगः चित्तवृत्तिनिरोधः) के रूप में परिभाषित किया […]

Reading In English